लखनऊ – देश में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले जहां बीजेपी राम मंदिर बनवाने के नाम पर हमेशा राजनीति चमकाने में आगे रहती। उन्हीं पद चिन्हों पर अब सपा के मुखिया अखिलेश यादव भी दौड़ने लगे हैं। बता दे कि लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी के राम मंदिर राग के बाद अब समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने भगवान विष्णु का भव्य मंदिर बनवाने का ऐलान कर दिया है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि भगवान विष्णु का नगर विकसित किया जाएगा, जिसमें भव्य मंदिर होगा और यह मंदिर कंबोडिया के अंगकोरवाट मंदिर की ही तरह होगा।

अंगकोरवाट जैसा मंदिर

अखिलेश ने मीडिया से बात करते हुए कहा ‘हमारी पार्टी  इटावा की लॉयन सफारी के करीब भगवान विष्णु के नाम पर 2,000 एकड़ से ज्यादा जमीन पर नगर विकसित करेंगे,  हमारे पास चंबल के बीहड़ों में काफी भूमि है। नगर में भगवान विष्णु का भव्य मंदिर होगा, यह मंदिर कंबोडिया के अंगकोरवाट मंदिर की ही तरह होगा।’

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश का बयान ऐसे वक्त में आया है जब उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले एक बार फिर राम मंदिर का मुद्दा छेड़ा था। मौर्य ने संकेत दिए थे कि संसद के जरिए कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण किया जाएगा।

राम मंदिर मुद्दे पर सीधा जवाब देने से बचते हुए अखिलेश ने वादा किया कि अगर वे सत्ता में आए तो भगवान विष्णु का एक नगर निश्चित तौर पर विकसित किया जाएगा, उन्होंने कहा कि भगवान राम और भगवान कृष्ण दोनों विष्णु के ही अवतार हैं, अध्ययन के लिए विशेषज्ञों की टीम कंबोडिया भेजी जाएगी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.