जुमे के दिन कानपुर, प्रयागराज समेत अन्य जगहों पर हुवे हिंसा को देखते आज शुक्रवार को वाराणासी में
जुमे की नमाज ज्ञानवापी सहित शहर और ग्रामीण इलाकों में सकुशल संपन्न करवा ली गयी है। इस दौरान ज्ञानवापी से नमाज पढ़ के निकले नमाजियों ने आने जाने वाले लोगों को और पुलिस अधिकारियों को तिरंगा देकर अमन का पैगाम दिया।

जुमे की नमाज को लेकर बुधवार से ही पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश और डीएम कौशल राज शर्मा धर्म गुरुओं और क्षेत्र के सभ्रांत लोगों से संवाद किया। इन बैठकों और संवाद में आपसी भाई चारे के साथ अफवाहों को दरकिनार करते हुए जुमे की नमाज अदा करने की बात कही गयी, जिसे वाराणसी के मुस्लिम बंधुओं ने अक्षरशः पालन किया और सकुशल जुमे की नमाज अदा की गयी।

ज्ञानवापी मस्जिद की देखरेख करने वाली अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी, बुनकर बिरादराना तंजीम बाईसी कमेटी और जमीयत उलमा-ए-उत्तर प्रदेश सहित अन्य संगठनों ने मुसलमानों के लिए अपील जारी करते हुए कहा कि गंगा-जमुनी तहजीब वाले इस शहर में अफवाहों पर कतई ध्यान न दें। संयम का परिचय देते हुए सद्भाव बना कर रखें। कोई शरारत करने का प्रयास भी करे तो उसकी सूचना तत्काल पुलिस को दें। मुस्लिम संगठनों ने कहा है कि कुछ लोगों की शरारत की वजह से सभी लोगों पर सवाल उठते हैं। इसलिए ऐसा कोई काम न हो कि माहौल बिगड़े।
वहीं जुमे की नमाज के बाद ज्ञानवापी परिसर के बाहर कौमी एकता के साथ ही साथ भारत का तिरंगा भी दिखाई दिया। प्रसिद्ध मार्केट हड़हा सराय के व्यापारी मोहम्मद आसिफ शेख अपने सहयोगियों संग नमाज के बाद राष्ट्रीय ध्वज बांटते दिखे। मोहम्म आसिफ शेख ने बताया कि पुलिस प्रशासन की मदद से और हमारी मस्जिदों की कमेटियों की मुस्तैदी से जुमे की नमाज सकुशल अदा कर ली गयी है।  हम सभी राष्ट्रीयता को मानाने वाले हैं और सच्चे देशभक्त हैं। ऐसे में आज नमाज के बाद पुलिस कर्मियों और अधिकारियों के साथ ही साथ नमाजियों को भारत का राष्ट्रीय ध्वज बांटा गया है।

इस दौरान पहुंचे अपर नगर आयुक्त मुख्यालय सुभाष दुबे ने उनकी सराहना की और उन्हें झंडे को ऊंचा रखने के लिए कहा। वहीं उन्होंने कहा कि हम लोग अक्सर फुट पेट्रोलिंग करते हैं और आज भी चौक, दालमंडी इलाके में फुट पेट्रोलिंग की गयी है। इसमें कोई नयी बात नहीं है और सकुशल संपन्न करवा ली गयी है नमाज।

Leave a Reply

Your email address will not be published.