लखनऊ पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी के देहावसान के बाद यूपी सरकार द्वारा घोषित 7 दिन के राजकीय अवकाश के चलते विधानसभा हो,जवाहर या इंदिरा भवन हो या बीजेपी कार्यालय आज शनिवार को ऑफिस खुलने के बाद काम पर लौटे लोगों का कहना है कि देश ने एक बहुत महान विभूति को खोया है लखनऊ उनकी कर्मभूमि रहा है उनके जाने का दुःख सभी को है आज भी हम लोग दुखी है कार्य पर जरूर लौटे हैं लेकिन उनकी यादे हमारे दिलों में जरूर हैं
इन सभी कार्यालयों में आज सुबह भी आधा झुका है राष्ट्रीय ध्वज ,इससे पहले यूपी की योगी सरकार ने अटल जी की कर्मभूमि रहे उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों की नदियों में उनकी अस्थियों के विसर्जन की घोषणा की थी

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.