उत्तर प्रदेश के राजधानी लखनऊ में पुलिस ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की ब्लैक मार्केटिंग के आरोप में 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। ठाकुरगंज स्थित एरा मेडिकल कॉलेज के पास से दो डॉक्टर समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके कब्जे से 34 इंजेक्शन बरामद किए हैं। 4 लाख 69 हजार रुपए भी मिले हैं। पूछताछ में सामने आया है कि 1800 रुपए के रेमडेसिविर इंजेक्शन को ये लोग 20 से 30 हजार रुपए में बेच रहे थे। अब पुलिस इंजेक्शन की सप्लाई करने वाले थापा की तलाश में छापेमारी कर रही है।

जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया है उनकी पहचान उन्नाव निवासी विपिन कुमार‚ ठाकुरगंज निवासी डॉ. अतहर​​​​​‚ गोंडा निवासी डॉ. सम्राट पांडेय और अमेठी निवासी तहजीब हसन के रूप में हुई है। आरोपी डा. अतहर MBBS चौथे सेमेस्टर का छात्र है। आरोपी डॉ. सम्राट 2016 में ऐरा में ओटी टेक्नीशियन था। वह पटना से मेडिकल की पढ़ाई कर रहा है। ACP चौक आईपी सिंह ने बताया कि फरार आरोपित थापा कानपुर निवासी है। वह 4 से 5 हजार में इंजेक्शन विपिन को‚ विपिन तहजीब को 5000 में‚ तहजीब डा. अतहर को 7500 में और अतहर डा. सम्राट को 10 हजार में बेचता था। उसके बाद सम्राट जरूरतमंदों को 15 से 20 हजार में इंजेक्शन बेचता था।

दिल्ली के आप विधायक ने दरोगा का वीडियो किया पोस्ट
दिल्ली के आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश बालियान ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया है। उनका दावा है कि वीडियो लखनऊ के चिनहट थाना क्षेत्र का है। उन्होंने लिखा है कि 5000 लेकर देवा रोड के ऑक्सीजन प्लांट में रीफिलिंग करवाई जा रही है। चिनहट थाने के SI सुदर्शन सिंह लोगों से 5 हज़ार रुपए लेकर देवा रोड ऑक्सीजन प्लांट में रीफिल करवा रहे हैं, आम जनता सुबह 5 बजे से लाइन में लगी हुई है उनको गाली गालौज करके सुबह से खड़े किए हुए हैं, अपने व्यक्तिगत लोगों के सिलेंडर भरवा रहे हैं। ये बेशर्मी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.