उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में यूपी कैबिनेट की बैठक लोक भवन में खत्म हो गई है। इस बैठक में 29 प्रस्तावों को हरी झंडी दी गई है। यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री व प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि संस्कृत स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति करने और पंचायतों में पंचायत सहायक नियुक्त करने का फैसला लिया गया है। बताया जा रहा है कि पहले जनसंख्या नियत्रण से जुड़ा प्रस्ताव भी कैबिनेट में आना था, लेकिन अब इस पर बाद में मंथन किया जाएगा।

सरकार के प्रवक्ता के मुताबिक, अब दिव्यांगों की नियुक्ति आरक्षण के हिसाब से डायरेक्ट की जाएगी। इसका प्रस्ताव पास किया गया है। केंद्र सरकार ने 2011 में दिव्यांगों के आरक्षण के लिए 3 पर्सेंट का प्रावधान किया था और 2016 में इसको यूपी में लागू किया गया था।

सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि आज हुई बैठक में 29 अहम प्रस्तावों को मंजूरी प्रदान की गई है। इसमें कई विभागों के प्रस्ताव शामिल हैं। अयोध्या के सम्बंधित तीन प्रस्ताव पास हुए हैं। एक लोक निर्माण विभाग से संबंधित है। अयोध्या अकबरपुर बसखारी मार्ग 115.18 करोड़ की लागत से बनेगा। जिससे मऊ आजमगढ़ पूर्वांचल जाने वाले लोगों के लिए सुविधा मिलेगा और आने जाने में सुविधा होगी। दूसरा प्रस्ताव साढ़े 13 किलोमीटर की सड़क का है। इस पर 132.87 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा तीसरा प्रस्ताव माया बाजार के पास घनी आबादी से बचने के लिए 3 किलोमीटर बाई पास बनाने का प्रस्ताव किया जा रहा है जिसको बनाने में 61.33 करोड़ की लागत आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.