कानपुर– उत्तर प्रदेश सरकार के खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी कानपुर में स्थित उप्र लघु उद्योग निगम कार्यालय पर छापा मारा तो कार्यालय में 90 प्रतिशत कर्मचारी गैरहाजिर मिले।

मंत्री ने सभी का 1 दिन का वेतन काटने का आदेश दिया। साथ ही, उन्होंने आदेश दिया कि कर्मचारियों के प्रमोशन में गैरहाजरी होने के कारण दिक्कत होगी। मंत्री के अचानक छापा मारे जाने से कार्यालय में हड़कंप मच गया। इसके बाद जैसे ही कर्मचारी कार्यालय पहुंचे मेन गेट का कर्मचारियों ने ताला बंद कर दिया जिससे मंत्री बाहर नहीं निकल सके। करीब 1 घंटे तक मंत्री कार्यालय में बंद रहे और कर्मचारी बाहर नारेबाजी करते रहे। मंत्री ने फोन करके बंधक बनाए जाने की बात पुलिस को बताई। पुलिस ने मेन गेट का ताला खुलवाया लेकिन तब भी कर्मचारी नारेबाजी करते रहे।

लघु उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी सोमवार सुबह 9.45 बजे फजलगंज स्थित उप्र लघु उद्योग निगम कार्यालय पहुंचे। नजारा ऐसा मिला, जैसे अवकाश हो। कार्यालयों की बत्ती भी बंद थी। प्रबंध निदेशक केदारनाथ सिंह का दफ्तर भी बंद था। मंत्री को देखकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने जेनरेटर चालू करके कार्यालयों में लाइट जलाई। मंत्री ने स्टाफ से पूछा तो प्रथम तल पर चार-पांच चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ही उपस्थित मिले। किसी अधिकारी को न देखकर मंत्री ने प्रमुख सचिव भुवनेश्वर कुमार को फोन कर स्थिति से अवगत कराया। इसपर प्रमुख सचिव ने बताया कि प्रबंध निदेशक चुनावी ड्यूटी में मध्य प्रदेश गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.