इटावा,होली पर सैंफई में चाचा भतीजे ने खेली एक साथ होली । अखिलेश यादव ने भरे मंच पर शिवपाल सिंह का स्वागत पैर छूकर किया । कार्यकर्ताओं में उस समय जोश भर गया जब शिवपाल सिंह और अखिलेश यादव के नाम के नारे एक साथ लगाने लगे । होली के इस पर्व पर मुलायम सिंह साथ नही दिखे । परिवार में शिवपाल सिंह व उनके बेटे उनके बगल में बैठे दिखे । अन्य सभी परिवार के सदस्य एवं बुजुर्ग भी साथ थे । गुलाब के फूलों व गैंदे के फूलों के साथ होली खेली । शिवपाल सिंह यादव व अखिलेश यादव ने फूलों से एक साथ एक मंच पर होली खेली ।
एक मंच पर होली के इस द्रश्य से सभी कार्यकर्ताओं में खाशा जोश दिखा वहीं अखिलेश ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि शिवपाल सिंह इस होली पर एक साथ होने को लेकर कहा कि यह अच्छी बात है सभी को एक साथ होना चाहिए । मुलायम सिंह के न होने के जवाब में कहा कि नेता जी ने कहा है कि इस बार हम लखनऊ में होली मना रहे हैं सैंफई में हम लोग मना रहे हैं । अगली बार हम लोग लखनऊ में मनायेगें नेता जी सैंफई में ।
शिवपाल सिंह ने स्वयं मंच पर होली खेलते हुए माइक पर अखिलेश के सामने सम्बोधन में कहा कि घर में अगर लडाई हो तो सभी को घर में बातचीत से निपटा लेना चाहिए । छोटी छोटी बातों की लडाई से बडा नुकसान होता है । इसलिये सभी को चाहिए की घर की लडाई की पंचायत घर में ही हल कर लेना चाहिए । घर में बाहर वालों से सतर्क एवं सावधान रहना चाहिए । एक तरफ अखिलेश को देखते रहे और कार्यकर्ताओं को भी देखते हुए अपनी बातें साझा की ।
अखिलेश यादव ने जैसे ही मंच पर माइक थामा तो अपने सम्बोंधन में उन्होंने शिवपाल सिंह की बातों को तंज कसते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं के नारों पर नसीहत दे डाली कहा कि इन नारों ने ही सब गडबड कर दी थी । मेरे मन में कोई गलत फहमी नही है इसलिये हमने सभी को टीवी पर देखा था उनकी पहचान कर ली है । इसलिये अब कोई गलती न करें । शिवपाल सिंह के कार्यकर्ताओं को नारों पर नसीहत दी । दूसरी ओर यह भी कहा कि अभी भी न सुधरे तो आगे अंधेरा है । बिल्कुल सब खतम हो जायेगा । अब हम लोगों के पास केवल तीन मौंके हैं उसके बाद पेशन वाले हो जायेगें । कहीं न कहीं अपने चाचा की बातों का जवाब भी दिया ।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.