आज के इस युग में आपको नेचुरल चीजें मिलना मुश्किल है खासकर उन पॉश इलाकों में जो गांवों से बहुत दूर हैं। ऐसी जगह हमें लगभग सभी चीजें हमें शुद्ध नहीं मिलती खाने-पीने की सभी चीजों में मिलावट होती है। ऐसे में खुद को फिट रखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने खाने पर नियंत्रण करना पड़ेगा। अपनी अच्छी सेहत के लिए आज हम आपको ऐसे खान-पान के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके सेवन को लेकर साइंटिस्ट और डायटीशियन दोनों ही सहमत हैं। ऐसी डाइट न केवल मोटापा बढ़ने से रोकेगी, बल्कि आपके पाचन और रात की नींद से जुड़ी समस्याओं से भी छुटकारा दिलाएगी।

कई लोगों को ये भ्रम रहता है कि रात के समय खाना खाने से वजन बढ़ जाएगा, लेकिन अगर तय समय पर खाना खाया जाता है तो आप अपने वजन पर नियंत्रण रख सकते हैं। अपने रात के खाने में प्रोटीन और विटामिन से भरपूर फलों और सब्जियों का सेवन करें। यह भी याद रखें कि रात का खाना खाने का सबसे बढ़िया समय सोने से दो घंटे पहले का वक्त होता है। जो लोग लम्बे समय तक भूखे रहकर एकदम से ज़्यादा भोजन करते हैं, उन्हें टाइप 2 डायबिटीज होने का खतरा रहता है। याद रखें कि आप मीठा और तला हुआ खाना से भी दूर रहें।

  1. मेवा और पनीर

थोड़े से ही पनीर में 100 कैलरी ऊर्जा होती है। इसलिए इसका छोटा सा टुकड़ा ही खाएँ। पनीर में ट्राइपोफान, प्रोटीन और कैसीन जैसे पौष्टिक पदार्थ पाए जाते हैं। पनीर के सेवन से शरीर की मेटाबोलिज्म प्रक्रिया में भी तेज़ी आती है। अगर आप पनीर का सेवन मेलाटोनिन भरे मेवों और अंगूर के साथ करते हैं, तो आपको और बढ़िया फायदे मिल सकते हैं।

  1. टर्की और कद्दू की सब्ज़ी

टर्की और कद्दू की सब्ज़ी अपने आपमें एक पौष्टिक और कम कैलरी वाला आहार है। मोटापा नियंत्रित करने के साथ-साथ यह ट्रीप्टफैन का अच्छा स्त्रोत है। इसमें अच्छी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। इसे पचाना भी आसान होता है। अपने रात के खाने में इस सब्ज़ी के सेवन से आपको संपूर्ण आहार मिलेगा।

  1. भीगे छोले की चटनी और सब्ज़ियाँ

भीगे हुए छोले से तैयार की गई चटनी को हुमस कहा जाता है। यह विटामिन B6 से भरपूर होती है जो मेलाटोनिन बनाने में मदद करता है। आप इसे कई सब्ज़ियों के साथ मिलाकर खा सकते हैं। इसे खीरे और गाजर के साथ मिलाकर खाना भी एक अच्छा विकल्प है।

  1. भुट्टा आपके काबू में रखेगा शरीर का वजन

रात के भोजन के लिए भुट्टा बहुत अच्छा विकल्प है। भुट्टा शरीर के अत्यधिक कोलेस्ट्रॉल को कम करके शरीर का वजन बढ़ने से रोकता है। कृपया इस बात का ध्यान रखें कि यहाँ पके हुए भुट्टे की बात की जा रही है। सीलबंद भुट्टे से वह फायदा नहीं हासिल होने वाला जो ताज़े पके हुए भुट्टे में मिल सकता है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.