फिरोजाबाद – उत्तर-प्रदेश में चल रही पुलिस भर्ती परीक्षा एक चौकाने वाला हादसा सामने आया जब परीक्षा करवा रहे कर्मचारियों ने परीक्षा में कोई गड़बड़ी न हो इसको लेकर शादीशुदा महिलाओं के मंगलसूत्र उतरवा लिए गए। महिला अभ्यार्थियों ने लाख दलीलें दी लेकिन कर्मचारियों ने सभी दलीलों को दरकिनार करते हुए अभ्यर्थियों से मंगलसूत्र उतरवा लिए और उसके बाद ही उन्हें परीक्षा देने के लिए परीक्षाकक्ष में जाने दिया।

गौरतलब है कि फिरोजाबाद के परीक्षा केंद्र एमजी कॉलेज में परीक्षा देने आई महिला अभ्यार्थियों का आरोप है चेकिंग के नाम पर महिलाओं के सुहाग के प्रतीक मंगलसूत्र को भी पुलिस ने नहीं बख्शा। पुलिस ने कहा कि अगर परीक्षा देनी है तो मंगलसूत्र उतारना होगा वरना परीक्षा में बैठने नहीं देंगे। मंगलसूत्र उतरवाने के पुलिस के इस तालिबानी आदेश के बाद परीक्षार्थियों में आक्रोश है। हालांकि उस दौरान बेबस महिलाओं ने सीने पर पत्थर रखकर अपना मंगलसूत्र उतार दिया लेकिन कहा कि पेपर होने के बाद वह इसका विरोध करेंगे। मंगलसूत्र उतारने वाली घटना का लोगों ने विरोध किया है। पूरे मामले में अधिकारी किसी भी तरह का पक्ष रखने को तैयार थे, पुलिस का कहना है कि सुरक्षा के लिहाज और शासन के सख्त निर्देश के चलते मंगलसूत्र उतरवाया गया है। मामले की सूचना मिलते ही महिला आयोग की फिरोजाबाद की सदस्य ने जांच के बाद कार्रवाई की बात कही। वहीं डीएम ने भी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की। महिला अभ्यर्थियों ने रोते हुए कहा कि हिंदू धर्म में कभी भी एक विवाहिता अपना मंगलसूत्र बेवजह नहीं उतारती है। लेकिन कर्मचारियों ने एक न सुनी और सुहागिन महिलाओं के मंगलसूत्र उतरवा लिए। पुलिस भर्ती परीक्षा में फर्जी अभ्यर्थी शामिल न हो सकें इसलिए बायोमेट्रिक मशीन से हाजिरी लगवाई जा रही और साथ ही चेहरे की स्क्रीनिंग भी कराई गई।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.