लखनऊ – सरकारी विभागों में ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर अधिकारियों पर अब नेताओं का इस कदर दबाव होने लगा है कि वो इससे परेशान हो गए हैं। इतना परेशान हो गए कि उन्होंने अब उन पर ही कार्रवाई करनी शुरू कर दी जो किसी नेता से अधिकारियों पर दबाव बना रहें हैं ट्रांसफर-पोस्टिंग के लिए।

ताजा मामला उत्तर प्रदेश का है जहां पुलिस महानिदेशक इस समय इस बात से परेशान हैं कि पुलिस महकमे में 31 कंप्यूटर ऑपरेटर के ट्रांसफर के संबंध में इतने ज्यादा सिफारिशी पत्र आ गए हैं कि उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि क्या करें। इन सिफारिशी पत्रों से अजीज आकर पुलिस महानिदेशक तकनीकी सेवा ने बीजेपी के इन नेताओं के सिफारिशी पत्र को सार्वजनिक कर दिया। साथ ही डीजी ने प्रदेश के सभी जिला पुलिस प्रमुखों यानि एसएसपी को पत्र लिखकर ये निर्देश दे दिए कि ऐसे कंप्यूटर ऑपरेटर जो अपने ट्रांसफर के लिए सिफारिश लगा रहे हैं उनके खिलाफ चेतावनी पत्र जारी करें।

ट्रांसफर के लिए सिफारिश करने वाले न सिर्फ प्रदेश के कई मंत्री हैं बल्कि केन्द्र के भी मंत्रियों के भी सिफारिशी पत्र पुलिस महानिदेशक को भेजे गए। उत्तर प्रदेश के 31 कंप्यूटर ऑपरेटरों मे मनचाहा ट्रांसफर पाने के लिए बीजेपी के सांसदों, विधायकों और मंत्रियों से सिफारिशी चिट्ठी लिखवाई। सिफारिशी पत्र 31 जनवरी 2018 से लेकर जून 2018 के बीच लिखे गए थे। इन सभी सिफारिश पत्रों में प्रदेश के पूर्वी हिस्सों के लोगों को पश्चिम में पश्चिमी हिस्सों के लोगों को पूर्वी हिस्सों के जिलों में तैनाती का जिक्र है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.