एटा — देश में होने वाले 2019 के आम चुनाव को लेकर देश की सभी पार्टिया पूरी तैयारी के साथ मैदान में आ गयी है। और अपने-अपने तरीके से वोटरों को अपनी पार्टी  के साथ करने के लिए प्रयास कर रही है। उसी को लेकर समाजवादी पार्टी ने भी आम चुनाव के लिए कमर कस ली है।


अपनी तैयारी में किसी तरह की कमी नहीं छोड़ना चाहते है। इसलिए जनपद एटा के तहसील अलीगंज में आज समाजवादी पार्टी का बूथ कमेठी सम्मेलन जिले के बड़े नेताओं के नेतृत्व में संपन्न हुआ। जिसमे जनपद के प्रत्येक बूथ पर बीएलओ तैनात किये जाने की बात कही है। वही सपा के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव ने अलीगंज उपजिलाधिकारी पर भाजपा का एजेंट होने का आरोप लगाया है।

अपको बता दें 2019 का आम चुनाव नजदीक आते ही राजनैतिक पार्टियों में अपने अपने वोटों को लेकर खींचतान मची हुई है,इस में कोई भी पार्टी पाने वोटर को किसी तरह भटने देना नहीं चाहती है। उसके लिए अभी से ही समित बनाकर सम्मलेन करना शुरू कर दिए है। वही पार्टी नेताओं द्वारा दूसरे दलों पर आरोप प्रत्यारोप का दौर अपने चरम पर आने लगा है इसी सिलसिले में आज एटा जिले के अलीगंज में जनता महाविद्यालय में समाजवादी पार्टी का विशाल बूथ कार्यकर्ता कमेठी सम्मेलन का आयोजन किया गया।

इस आयोजन में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष,पूर्व जिलापंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव,पूर्व विधायक अलीगंज रामेश्वर सिंह यादव,कई ब्लॉक प्रमुख,प्रधान मौजूद रहे,बही पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव ने अपने बूथ कार्यकर्ता सम्बोधन में कार्यकर्ताओ का जमकर हौसला अफजाई किया और कहा कि अगर किसी भी बूथ पर कोई गड़बड़ी होती है तो हम उसके खिलाफ आंदोलन करेंगे।

वही पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव ने अलीगंज उपजिलाधिकारी पर हमला बोलते हुए कहा कि ये तो भाजपा के एजेंट की तरह काम कर रहे है। उन्होंने कहा कि अलीगंज के एसडीएम को ये पता चल जाय कि उनके पास आया व्यक्ति यदि समाजबादी पार्टी का व्यक्ति है तो वह उसका काम नहीं करते है।

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि अलीगंज एसडीएम भाजपा के कार्य कर्ता की तरह काम कर रहे है। और पूरे दिन महिलाओ के बीच बैठे रहते है और कोई काम नहीं करते है। और उन्होंने लगाया कि इस एसडीएम ने 106 पोलिंग बूथ ऐसे जगह बनवा दिए है जहाँ चुनाव के समय संघर्ष होना तय है। और जहां पोलिंग बूथों पर अलग अलग जाती वोट डाला करती थी लेकिन इन्होने चुनाव आयोग की गाइड लाइन को धता बताते हुए ऐसे बूथ बनाये गए है जिसमे सभी जातियां सम्मिलित होकर वोट डालेगी तो वहाँ संघर्ष होना तय है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.