बदायूं – मुलायम सिंह यादव के परिवार में लोग भले ही कितना बताएं की परिवार में सब कुछ ठीक चल रहा है लेकिन परिवार में चल रहा मनमुटाव कभी न कभी सब के सामने आ ही जाता है। समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने कल एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बदायूं सांसद धर्मेंद्र यादव को लेकर चचा शिवपाल का ने एक बार फिर अपना दर्द बयां किया। उन्होंने कहा कि अगर अखिलेश यादव ने बड़ों की बात मानी होती तो सूबे में आज समाजवादी पार्टी की सरकार होती और वह मुख्यमंत्री होते। पार्टी के पदाधिकारियों को आपस मे एकजुट रहने की सलाह देते हुए उन्होंने कहा कि वह हमेशा से पार्टी और परिवार के लिए समर्पित रहे हैं।

दरअसल बदायूं के ककराला कस्बे में होने वाले उर्स में शामिल होने पहुंचे थे, शिवपाल यादव के आने की खबर के बावजूद पार्टी पदाधिकारियों के में कोई भी वहां मौजूद नहीं रहा। इस मामले पर जब मीडिया ने शिवपाल यादव से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि बदायूं सांसद धर्मेंद्र मेरे साथ रहे,  इनकी पढ़ाई-लिखाई मैने कराई, इनकी और इनके परिवार की शादियां भी मैने कराईं हैं, धर्मेंद्र के पिताजी मेरे बड़े भाई हैं और वो आज भी मेरे साथ हैं।

शिवपाल यादव ने कहा कि पार्टी में मैं  हाशिए पर तब जाता जब मेरे साथ पब्लिक न होती। पार्टी का कार्यकर्ता उनके साथ है, बिना सूचना के लोग इकट्ठे हो जाते हैं और उन्हें बुलाते हैं। पार्टी कार्यकर्ता उनको बुलाकर खुश होता है और कार्यकर्ता की खुशी में मुझे भी खुशी मिलती है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.