लखनऊ – उत्तर प्रदेश की योगी सरकार बेटी और बच्चियों की सुरक्षा के लिए कई प्रयास कर रही है लेकिन दरिंदों की हैवानियत के आगे योगी सरकार बेबस है। महिलाओं और बेटियों सुरक्षा के लाख दावे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मुंह चिढ़ा रही ही हैं। आए दिन बेटियों से हो रही हैवानियत का नतीजा है लखनऊ की राजधानी में हर दिन बलात्कार की घटना सामने आती है और यूपी का कानून मामला दर्ज कर कार्रवाई की बात तो कर देते हैं लेकिन कड़ी कार्रवाई नहीं हो रही है। ‘बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ’ बीजेपी का नारा भी मात्र अब जुमला बन कर रह गया है।

ताजा मामला लखनऊ के थाना सआदतगंज क्षेत्र का है जहां राशिद नाम के युवक ने अपने ही पड़ोस में रहने वाली 6 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म कर डाला। वारदात को अंजाम दे कर राशिद मौके से फरार हो गया। बताया जा रहा है घटना के समय आरोपी की पत्नी दूसरे कमरे में काम कर रही थी, तभी मौके का फायदा उठाकर आरोपी ने टीवी की आवाज तेज कर दिया और बच्ची को अपनी हवस का शिकार बना डाला। बच्ची जब रोते-बिलखते अपने घर पहुंची तो उसकी मां ने देखा कि उसके प्राइवेट पार्ट से खून बह रहा है जिसे  देख मां रोने-चिल्लाने लगी, मां के चिल्लाने पर आसपास के लोग इकट्ठा हो गए।

परिवार वालों ने फौरन पुलिस को सूचना दी उसके बाद सआदतगंज पुलिस ने अपनी टीम के साथ दबिश दे कर युवक राशिद को गिरफ्तार कर लिया और बच्ची को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा। पुलिस का कहना है कि इस मामले में आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.