लखनऊवासी हो रहे है रामभक्ति रस से सराबोर

लखनऊ में इन दिनों रामभक्ति रस की धारा बह रही है, मोती महल लॉन में बाल्मीकि रामायण कथा चल रही है, स्वामी राघवाचार्य के द्वारा भगवान राम की भक्ति रस का पान करने का अवसर भक्तो को प्राप्त हो रहा है।
स्वामी जी के द्वारा बताया गया कि जिस काल से सब डरते है वह काल भगवान राम श्री राम से डरता है, बाल्मीक रामायण के लिखे वृतांत श्रीराम के आगे शरणागति होने का एहसास श्रद्धालुओं को कराते है। बाल्मीकि रामायण का हर प्रसंग मानव और भगवान के बीच प्रेम और स्नेह का ज्ञान कराता है।
केसरिया रंग के पंडाल में दूधिया रौशनी, राम भक्तिरस धारा, भक्तो को रोजमर्रा के तनाव, परेशानियो से दूर भावविभोर कर रही है। ओपी श्रीवास्तव के कुशल संयोजन में शुरू हुए बाल्मीकि रामायण कथा, 8 मार्च से 15 मार्च तक रोजाना दोपहर 3 बजे से शुरू होकर सांय 7 बजे तक चलेगी और श्रीराम स्तुति व आरती के साथ समाप्त होगी। संयोजक ओपी श्रीवास्तव ने बताया कि रामायण का हर प्रसंग सामाजिकता के साथ ही कलयुग में सतयुग का एहसास कराती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.