मेरठ – यूपी में मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव पर घूस लेने के आरोप के बाद अब पश्चिम उत्तर प्रदेश के भाजपा से फायर ब्रांड नेता और विधायक संगीत सोम पर 43 लाख रुपए की रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है। ये आरोप बीजेपी के ही दूसरे नेता ने विधायक पर लगाया है। पीड़ित ठेकेदार ने कहा कि रिश्वत की रकम देने के बावजूद ना तो ठेका मिला और ना ही रकम वापस मिली।

दरअसल मामला ये है कि मेरठ के घाट गांव के प्रधान संजय रात्रि में SSP आवास पहुंचे ।जहां उन्होंने एक लिखित शिकायत दी। जिसमें भाजपा के सरधना सीट के विधायक संगीत सोम पर गंभीर आरोप लगाते हुए संजय प्रधान ने बताया कि वह पीडब्ल्यूडी और अन्य विभाग में ठेकेदारी का काम भी करते हैं। मेरठ के दादरी में सरकारी कॉलेज बनाने का ठेका दिलाने के नाम पर विधायक संगीत सोम ने 43 लाख रुपए की मांग थी जो कि यह रकम तीन किश्तों में दे भी दी । जिसमें एक बार उनके पीए को एक बार उनके भाई को और तीसरी बार एक होटल के मालिक को दिलाई गई। इस मामले में विधायक ने खुद फोन करके रकम देने के लिए कहा। लेकिन जब ठेका नहीं मिला तो फिर ठेकेदार ने अपनी रकम वापस मांगी। इस पर विधायक के गुर्गों ने उन्हें टकराना शुरू कर दिया। जिसके बाद अब ठेकेदार खुद विधायक के खिलाफ शिकायत लेकर एसएसपी आवास पहुंच गया। एसएसपी ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच के निर्देश दे दिए हैं। इस मामले की जांच खुद एसपी देहात राजेश कुमार करेंगे। जिसके बाद अगर इस शिकायत में तथ्य पाए गए तो मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई की भी बात कही जा रही है। हमेशा अपने बयानों से विवादों में रहने वाले संगीत सोम एक बार फिर कठघरे में खड़ें हैं।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.