लखनऊ – मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आधुनिक सुविधाओं से लैस आलमबाग बस टर्मिनल बस अड्डे का उद्घाटन किया। बस अड्डे में एसी वेटिंग हॉल, नि:शुल्क ठंडा पेयजल, आरामदायक बेंच,  सब वे से प्लेटफार्म रूट,  फूडकोर्ट के लिए लिफ्ट, एटीएम, बैंक, ऑटोमैटिक एनॉउसमेंट जैसी सुविधाएं उपलब्ध हैं।

उद्घाटन के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि परिवहन निगम ने विगत एक साल में बेहतर काम किया है। इसके चलते यह विभाग फायदे में है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हमने दिव्यांगों को पूरे भारत में जहां-जहां यूपी परिवहन निगम की बसें चलती हैं वहां उन्हें फ्री में सीट उपलब्ध कराई है। हमने माताओं बहनों के लिये रक्षाबंधन को फ्री आवागमन की सुविधा दी है। वहीं कुंभ 2019 के लिए मुख्यमंत्री योगी ने परिवहन निगम की ओर से विशेष सुविधाएं देने का भी एलान किया। साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि आलमबाग बस अड्डे की तर्ज पर प्रदेश में 21 और बस अड्डों का निर्माण किया जाएगा।

आलमबाग बस अड्डे से इन बसों का होगा संचालन

परिवहन विभाग के प्रबंध निदेशक के मुताबिक प्रथम फेज में लखनऊ से दिल्ली और आगरा वाया एक्सप्रेस वे संचालित होने वाली 395 सेवाओं की शुरुआत होगी। जिसमें गोरखपुर के लिए 30, वाराणसी 14 और दिल्ली एवं आगरा के लिए 94 एसी लग्जरी बसों को चलाया जाएगा। वहीं दिल्ली और आगरा के लिए 306 साधारण सेवाएं, वाराणसी के लिए 78, इलाहाबाद 84, झांसी 18, इटावा चार और हरदोई के लिए 12 साधारण बसों का संचालन किया जायेगा।

सपा कार्यकर्ताओं ने एक दिन पहले ही कर दिया था उद्घाटन, राहगीरों को बांटी थी मिठाईयां

सपाइयों ने एक दिन पहले ही कर दिया उद्घाटनः  गौरतलब हो कि अत्याधुनिक तकनीक से लैस इंटरनेशनल बस स्टेशन का उद्घाटन सीएम योगी के द्वारा आज किया गया है। लकिन इससे पूर्व समाजवादी पार्टी के नेताओं ने इसे अपने सरकार की उपलब्धि बताकर एक दिन पहले ही इसका उद्घाटन कर दिया। इस मौके पर सपाइयों ने जश्न मनाया और लोगों को मिठाई भी बाटी। लखनऊ मेट्रो के उद्घाटन के समय भी सपा कार्यकर्ताओं ने मिठाई बाटी थी। आलमबाग बस स्टेशन का नाम कभी डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर बस स्टेशन था। 2012 में जब प्रदेश में अखिलेश यादव के नेतृत्व में सपा की सरकार बनी तो इसको तोड़कर नया बस अड्डा बनना शुरू हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.