लख़नऊ , बीती रात आई भयानक आंधी तूफान बारिश ओले की तबाही आम के बागवानों को बर्बाद कर कर रख दिया ,

तूफान की तीव्रता इतनी तेज़ थी कि मलिहाबाद के बागों में लगे आम को छड़ भर में जमीन पर ला दिया ।
साथ मे पड़े ओले की मार से कुछ तो आम नीचे आ गया लेकिन कुछ पर गहरे निशान छोड़ गया वी भी एक बड़ा नुकसान है ।
किसानों का कहना है जबसे आंधी आई तब से नीद नही आई और जब बाग पहुचे तो रोना आ गया ।
लगभग 40% माल पेड़ से नीचे आ गया जो बहुत बड़ा नुकसान है इतनी की उम्मीद नही थी पूरे साल इसी पर निर्भर रहते है और जब तैयार करके कुछ मिलने का समय आता है तो कुदरत मार में सब पल भर में खत्म हो जाता है एक हिसाब से किसान अधमरा हो गया है इसकी भरपाई नही हो सकती जो आम गिरा है वो किसी काम का नही सिर्फ खटाई बनेगी टका मोल बिकेगा यही अगर 10 दिन और आंधी नही आती तो कुछ कबर हो जाता ये तो पूरा का पूरा नुकसान है

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.