लखनऊ – राजधानी में आलमबाग बस अड्डा प्रदेश के सबसे हाइटेक बस अड्डों में शुमार होने जा रहा है। 12 जून को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस बस अड्डे को जनता को समर्पित करेंगे, 235 करोड़ की लागत से बने इस बस अड्डे में 125 कमरे का लग्जरी होटल, 6 स्क्रीन सिनेमाहॉल, शॉपिंग मॉल के अलावा पार्किंग की भी व्यवस्था की गई है। साथ ही राजधानी का आलमबाग बस स्टेशन विश्वस्तरीय सुविधाओं से लैस होकर तैयार है। बस स्टेशन पूरी तरह से सेंसरयुक्त प्रणाली से लैस है। बसों का आवागमन हो या फिर डिस्प्ले बोर्ड पर सूचनाओं का आदान-प्रदान, सब कुछ सेंसर आधारित है। यात्रियों को गर्मी से राहत देने के लिए गैलरी में मिस्ट फैन (हवा के साथ पानी फेंकने वाले पंखे) लगाए गए हैं। साथ ही वातानुकूलित गैलरी, ऑटोमेटिक डिस्प्ले बोर्ड, एसी वेटिंग रूम, बैंक, पोस्ट ऑफिस, साफ-सुथरे शौचालय की व्यवस्था भी है।

सेंसरयुक्त प्रणाली से लैस आलमबाग बस टर्मिनल

– आलमबाग बस अड्डे से होगा 750 बसों का संचालन

– महिलाओं के लिए 50 पिंक बसें भी चलेंगी

– यात्रियों की सुविधा के लिए एसी वेटिंग हॉल

– ठहरने के लिए 125 कमरे का लग्जरी होटल, 6 स्क्रीन का सिनेमाहाल, शॉपिंग मॉल

– 3 एकड़ में बने हैं 50 प्लेटफार्म

– 50 बसों की अंडरग्राउंड पार्किंग की सुविधा

– 5 टिकट काउंटर, 2 काउंटर एमएसटी के लिए

– 2 वॉटर प्यूरीफायर मशीनें, स्टाफ के लिए 100 बेड की डॉरमेट्री

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.