रैगिंग के मामले में सीनियर मेडिकोज पर सामूहिक जुर्माना।

एमबीबीएस और बीडीएस द्वितीय वर्ष के मेडिकोज को देना होगा एक हज़ार जुर्माना।

रैगिंग का वीडियो वायरल होने के बाद शुरू हुई कार्रवाई।

सुरक्षा एजेंसी पर भी लगा 5000 रुपये का जुर्माना।

7 दिन में अदा करना होगा जुर्माने की रकम।

एमबीबीएस में 250 और बीडीएस में 70 मेडिकोज हैं।

संस्थान के चीफ प्रॉक्टर ने लगाया जुर्माना।

रैगिंग को लेकर सख्ती दिखा रहा केजीएमयू प्रशासन।

Leave a Reply

Your email address will not be published.