स्पोर्ट्स डेस्क — लंबे समय से भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे बाएं हाथ के दिग्गज बल्लेबाज गौतम गंभीर ने मंगलवार देर शाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अपने संन्यास की घोषणा कर दी।गौतम गंभीर ने संन्यास की जानकारी अपने फेसबुक पेज पर दी है। वह कुछ दिनों पहले ही 37 साल के हुए थे। उनके क्रिकेट भविष्य पर आए दिन लोग सवाल पूछते रहते हैं, लेकिन आज उन्होंने सभी कयासों पर विराम लगा दिया।

गंभीर ने अपने 58 टेस्ट की 104 पारियों में 9 शतक व 22 अर्धशतक की बदौलत कुल 4154, वनडे में 147 मैचों की 143 पारियों में 11 शतक व 34 अर्धशतक के साथ 5238 रन बनाए हैं। इसके अलावा टी-20 में 37 मैच की 36 पारी में 7 अर्धशतक के साथ कुल 932 रन बनाए हैं।

गौतम गंभीर ने कहा कि ये जीवन का सबसे मुश्किल फैसला था। उन्होंने कहा कि उन्हें बहुत दिनों से लग रहा था कि इसका समय आ गया है। उन्होंने अपने करियर में मदद करने वालों को धन्यवाद दिया है। गंभीर ने भारत को 2011 का वर्ल्‍ड कप जिताने में बड़ी भूमिका निभाई थी।

2007 टी-20 विश्व कप में गौतम गंभीर भारतीय टीम का हिस्सा थे। पूरे टूर्नामेंट में गंभीर ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे। फाइनल में गंभीर की पारी अहम रही थी। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ 54 गेंदों पर 75 रन की जोरदार पारी खेली थी। वह 2009 में वह आईसीसी टेस्ट रैंकिंग के शीर्ष पर पहुंचे थे। गौतम गंभीर ने अपना आखिरी टेस्ट मैच नवंबर 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। वहीं उन्होंने सीमित ओवर क्रिकेट में आखिरी बार जनवरी 2013 में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे मैच और दिसंबर 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था।

उन्होंने अपनी कप्तानी में केकेआर को 2012 और 2014 में चैंपियन बनाया। गंभीर 2017 में केकेआर को छोड़कर दिल्ली डेयरडेविल्स वापस आ गए थे। उन्हें इस टीम की कप्तानी सौंपी गई थी। लेकिन शुरुआती मैचों के बाद पहले उन्होंने कप्तानी छोड़ी फिर टीम मं अपनी जगह भी छोड़ दी थी।

2010 में न्यूजीलैंड के खिलाफ गौतम गंभीर को भारतीय टीम की कप्तानी सौंपी गई थी। भारत ने ये सीरीज 5-0 से अपने नाम की थी। उनका खुद का प्रदर्शन भी शानदार रहा था। जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द सीरीज के पुरस्कार से भी नवाजा गया था। अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में गौतम गंभीर के नाम कई रिकॅार्ड शामिल हैं। 2009 में गंभीर टेस्ट क्रिकेट में लगातार पांच शतक जड़ने वाले खिलाड़ी बन गए थे। इसके अलावा गौतम गंभीर ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्होंने 300 से भी ज्यादा रन चार टेस्ट मैच में बनाए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.