स्पोेर्ट्स डेस्क । भारत और वेस्टइंडीज के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच हैदराबाद में शुक्रवार 12 सितंबर से शुरू हो रहा है. भारत पहले से ही सीरीज में 1-0 से अजेय बढ़त बनाए हुए है.

ऐसे में इस मैच में जीत हासिल करते हुए उनका मकसद सूपड़ा साफ करने का होगा. इस मैदान की पिच की बात करें तो यह पूरी तरह से पाटा है और जैसे ही मैच आगे बढ़ेगा यह धीमी होती जाएगी. यह पिच स्पिनर्स के लिए बेहतर मानी जा रही है.

बता दें कि भारत और वेस्टइंडीज के बीच दो मैच की सीरीज का दूसरा टेस्ट शुक्रवार से हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा.इससे पहले भारत ने राजकोट में खेला गया पहला टेस्ट 272 रन से जीता था. वहीं हैदराबाद टेस्ट को जीतकर या ड्रॉ कराकर टीम इंडिया घरेलू मैदान पर लगातार 10वीं टेस्ट सीरीज जीतना चाहेगी। पिछली बार 2012 में उसे इंग्लैंड ने चार टेस्ट की सीरीज में 2-1 से हराया था। इसके बाद से भारत ने आठ देशों के खिलाफ नौ सीरीज खेले और सभी जीते।

टीम इंडिया 1983 से अब तक अपने घरेलू मैदान पर विंडीज से सीरीज एक भी सीरीज नहीं हारी। तब से पांच सीरीज हुए, जिसमें टीम इंडिया तीन जीती। इस दौरान कुल 15 टेस्ट खेले गए, जिसमें भारत आठ और वेस्टइंडीज दो जीता। वहीं, पांच टेस्ट ड्रॉ रहे। भारतीय टीम विंडीज के खिलाफ लगातार सातवीं सीरीज जीतना चाहेगी।यहीं नहीं मुकाबला ड्रॉ रहने पर भी भारत 1-0 से सीरीज जीत लेगा।

वेस्टइंडीज की टीम की बात करें तो वह पिछले 16 साल से भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज नहीं जीत सकी। इस दौरान दोनों के बीच 19 टेस्ट हुए, जिसमें भारत 10 जीता और 9 ड्रॉ रहा। वेस्टइंडीज पिछली बार अपने घरेलू मैदान पर 2002 में सीरीज जीता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.