लखनऊ।भारतीय किसन यूनियन लाकतांत्रिक के बैनर तले वर्तमान समय मे देश व प्रदेश की सरकारों के द्वारा किसानों के साथ किए जा रहे वादा खिलाफी व सरकार की गलत नीतियों के विरोध में आईआईएम रोड दुबग्गा काकोरी में अपनी जायज मांगों को लेकर हजारों की संख्या में किसान दो दिवसीय धरने पर बैठे।धरने में दोपहर बाद अचानक समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के संस्थापक किसान नेता पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव व पूर्व कैबिनेट मंत्री बादशाह सिंह पहुंचकर किसानों को एक नई ताकत देने का काम किया।पूर्व मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि समाजवादी सेक्युलर मोर्चा किसानों के साथ है,हम शुरू से किसानों,छात्रों,बेरोजगरों,पीड़ितों सभी की लड़ाई लड़ते आये हैं और आगे भी लड़ते रहेंगे,हम एक किसान के बेटे हैं हमसे ज्यादा किसानों का दर्द कौन समझ सकता है,प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई है।संगठन के र्राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व विधायक राजकुमार सिंह गौतम ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज देश एवं प्रदेश का किसान लगातार आत्महत्या करने को मजबूर हो रहा है।देश की एवं प्रदेश की सरकारों के द्वारा प्रदेश के किसानों को हर प्रकार से सहयोग करने का वादा चुनाव के वक्त अपने घोषणा पत्र में एवं अपने भाषणों के द्वारा चुनाव के समय मे भाजपा के द्वार किया गया था।लेकिन लगभग साढ़े चार साल केंद्र की सरकार एवं 18 महीने की प्रदेश की भाजपा सरकार किसान विरोधी नीतियों के कराण अब तक देश एवं प्रदेश में बड़े पैमाने पर किसानों ने आत्म हत्या कर रहे है।किसानों की कर्ज माफी का वादा वर्तमान सरकार ने चुनाव में किया था। वह सिर्फ फाईलो तक ही सीमित रह गया है सिर्फ 10 रुपाये से 1000 तक का ही चेक कुछ किसानों को कर्ज माफी के नाम पर किया गया जोकि किसानों के साथ सरकार ने भद्दा मजाक किया है।बाकी प्रदेश का किसान आज भी कर्ज दार है।महंगे डीजल की वजह से बुवाई जुताई महंगी होती जा रही है।जिससे किसानों का बहुत नुकसान हो रहा है।फसल की लागत बढ़ जाती है।महंगी खाद बीज की वजह से फसल की लागत बढ़ जाती है।उसके बाद कभी सूखे के कारण फसल नष्ट हो जाती है।कभी बाढ़ के कारण  नष्ट हो जाती है।कभी ओला वरिष्ट के द्वारा फसल नष्ट हो जाती है। इन सभी समस्याओं से जूझने के बाद बची फसल इस समय अवारा साड़-गाय नष्ट कर रहे है।वर्तमान में देश की और प्रदेश की सरकार हर मौके पर किसानों के गन्ने का भुकतान की बात हर मंच से की जाती हैं लेकिन आज भी बहुत बड़ी धनराशि किसानों की सरकार पर एवं चीनी मिलों पर बकाया है।सरकार बिलकुल भी किसानों के भुगतानो को लेकर गंभीर नही है।प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह चौहान ने कहा कि सरकार के इसारे पर पुलिस और प्रशासन के लोग किसानों का उत्पीड़न कर रहे है,एक भाजपा नेता के इशारे पर लखनऊ के काकोरी,मलिहाबाद,माल,बीकेटी ,गोसाईगंज, मोहनलाल गंज सहित कई थानों में किसानों पर फर्जी मुकदमे पुलिस ने दर्ज किये हैं।उन्होंने ने कहा कि कानून व्यवस्था पूरी तरह से प्रदेश में अपनी पटरी से उतर चुकी है।यूनियन ने राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को प्रेषित 25 सूत्रीय ज्ञाप तैयार किया है।इस अवसर पर संगठन के प्रदेश महामंत्री राहुल सिंह,प्रदेश प्रवक्ता विनीत शुक्ला वीनू,प्रदेश संगठन मंत्री राम सागर शुक्ला,उद्योग किसान व्यपार मंडल उत्तर प्रदेश पंजी.के प्रदेश अध्यक्ष अजय त्रिपाठी मुन्ना,लखनऊ जिलाध्य्क्ष अध्यक्ष मनीष यादव दशहरी,हरदोई वीर प्रताप सिंह वीरू,जिला अध्यक्ष लखीमपुर एवं प्रभारी सीतापुर प्रदीप शुक्ला शामू,जिला अध्यक्ष उन्नाव सोने द्विवेदी,मंडल अध्यक्ष अमर सिंह लोधी,हरदोई जिला प्रभारी अतुल कुमार,जिला अध्यक्ष बाराबंकी रघुवेन्द्र प्रताप सिंह

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.