लखनऊ – प्रतापगढ़ में छात्रा के अपहरण के बाद हत्या और संभल में महिला के साथ बलात्कर जिंदा जलाने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रशासनिक लापरवाही होने के चलते दोनों के जिलों के एसपी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई के आदेश दे दिए। साथ दी दोनों जगहों पर नए एसपी की तैनाती कर दी गई। प्रतापगढ़ में देव रंजन वर्मा और संभल में यमुना प्रसाद को एसपी नियुक्त किया गया। वहीं मुख्यमंत्री की दो पुलिस कप्तानों पर हुई इस कार्रवाई से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है। दोनों जिलों में पुलिस कार्रवाई में लापरवाही से नाराज होकर मुख्यमंत्री ने पुलिस कप्तानों को निलंबित करने का निर्देश दिया।

बता दें कि संभल जिले में पांच लोगों द्वारा कथित रूप से सामूहिक बलात्कार के बाद एक महिला को एक मंदिर परिसर में जिंदा जला देने का मामला सामने आया था। जिले के रजपुरा थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति ने तहरीर देकर आरोप लगाया कि शनिवार की भोर में आराम सिंह नामक एक व्यक्ति समेत पांच लोगों ने घर में घुसकर तमंचे से बल पर उसकी पत्नी से बलात्कार किया। उसका कहना था कि वह गाजियाबाद में रहकर मजदूरी करता है, जबकि उसकी पत्नी अपनी सात वर्षीय बेटी के साथ रजपुरा थाना क्षेत्र स्थित गांव में रहती थी। वारदात के बाद आरोपी किसी को ना बताने की धमकी देकर चले गए। उसके बाद उसकी पत्नी ने अपने ममेरे भाई को इस घटना के बारे में जानकारी दी। कुछ देर बाद आरोपी फिर उसके घर आ गए और पास में बने मंदिर परिसर स्थित झोपड़ी में ले जाकर उसे जिन्दा फूंक दिया। इस मामले में एडीजी प्रेम प्रकाश ने चौकी प्रभारी और दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया था। पुलिस ने लापरवाही बरतते हुए पोस्टमार्ट कराए बिना ही कह दिया था कि गैंगरेप हुआ ही नहीं। हालात को सामान्य करने के लिए एडीजी को स्वयं गांव में डेरा डालना पड़ा। पुलिस ने इस मामले में सोमवार को तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं दूसरा मामला प्रतापगढ़ जिले के बाघराय थाना क्षेत्र के काशीपुर में एक 16 साल की लड़की आटा चक्‍की से अपने घर लौट रही थी, बताया जाता है कि कुछ दबंगों ने लड़की को रास्‍ते से अगवा कर लिया और फिर उसकी हत्‍या कर दी, हत्‍या को आत्‍महत्‍या दिखाने के लिए उन्‍होंने शव को एक पेड़ से लटका दिया। इस मामले में पहले पुलिस ने काफी लापरवाही बरती उसके बाद इस मामले में दो दबंगों को गिरफ्तार किया गया, इसी मामले में एसओ समेत दो पुलिसर्मियों को निलंबित कर दिया गया था।

इन्ही दोनों मामलों को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल दोनों एसपी को निलंबित करते हुए उन पर विभागीय कार्रवाई के निर्देश दे दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.