फर्रुखाबाद–फर्रुखाबाद के प्राचीन मठिया देवी मंदिर में 19 साल से मां की अखंड ज्योति जल रही है। श्रद्धालु ज्योति के दर्शन कर मनौती मांगते हैं। मंदिरों में भारी भीड़ है। भक्तगण सुबह से ही मंदिरों में पहुंचकर मैया को मनाने में लगे हैं।

शहर में मैया के जयकारे गूँज रहे हैं। नवरात्र का दूसरा दिन श्रद्धालुओं के नाम रहा।चैत्र नवरात्र में देवी मंदिरों में हवन कर माता का आहवान किया जाता है। रेलवे रोड स्थित मठिया देवी मंदिर काफी पुराना है। नवरात्र में यहां मेला सा लगा रहता है। नगर के प्राचीनतम मठिया देवी मंदिर पर पुरानी परंम्परा का निर्वहन करते हुये हवन का आयोजन किया गया। गौरतलब है कि सडक के बीचो बीच होने के कारण इस अंग्रेजों ने मंदिर हटाने का भरसक प्रयास किया था तो अंग्रेजों पर तरह तरह की विपत्तियां पडना शुरू हो गयीं थीं। जिसके बाद अंग्रेज इसे छोड कर चले गये थे। श्रद्धालुओं का कहना है कि यदि यहां हर रोज आकर माता की पूजा अर्चना की जाये तो उसकी मन की मुराद जरुर पूरी होती है।

मठिया देवी मंदिर में 19 साल से अखंड ज्योति जल रही है। पुजारी बताते हैं कि मंदिर के अंदर स्थापित मां मंगला माता मूर्ति के पास में ही बनी एक अलमारी में वर्ष 1999 में अखंड ज्योति जलाई गई थी। तब से यह अखंड ज्योति दिन-रात लगातार जल रही है।

अखंड ज्योति जलाने में सभी भक्त सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अखंड ज्योति के दर्शन कर जो लोग मनौती मांगते हैं, उनकी मनोकामना अवश्य पूर्ण होती हैं। नवरात्र पर मंदिर में जल रही अखंड ज्योति के दर्शन को भीड़ उमड़ती है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.