लखनऊ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपनी मांगो को लेकर हरिद्वार से शुरू हुई किसान क्रांति यात्रा में शामिल किसानों पर दिल्ली में हुई लाठीचार्ज की निंदा की है। श्री यादव ने कहा कि भाजपा सरकार का रवैया किसान विरोधी है। अन्नदाता की उसे कोई सुध नही। एक तरफ किसान अपनी फसल का उचित लागत मूल्य नहीं पा रहे हैं वहीं दूसरी ओर सरकार की दोषपूर्ण नीतियों से उनकी हालत खराब है। भाजपा ने चुनाव के पहले किसानों से जो लुभावने वादे किए थे वो सब हवा हवाई साबित हुए। किसानों से कर्जमाफी के नाम पर किया गया वायदा अभी तक पूरा नहीं हुआ। गन्ने की नयी फसल तैयार है लेकिन अभी तक पुराना भुगतान ही नही हो पाया।
यादव ने कहा कि अन्नदाता अपने साथ हुए धोखे की वजह से आक्रोशित है। भाजपा सरकार की दोषपूर्ण नीतियों के कारण ही किसान सड़कों पर आंदोलन करने को मजबूर है। केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार किसान विरोधी है। केन्द्र सरकार के चार साल से अधिक कार्यकाल में भाजपा ने किसानों के साथ किया गया कोई वादा पूरा नहीं किया। स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश अभी तक लागू नही हुई। सरकार की कुनीतियों के कारण किसान आत्महत्या करने को मजबूर है।
यादव ने कहा कि किसान गांधी जयंती पर राजघाट जाकर प्रार्थना करना चाहते थे लेकिन भाजपा सरकार किसानों की आवाज दबाना चाहती है। लोकतंत्र में जनता की आवाज को अनसुना करना दुर्भाग्यपूर्ण है। दिल्ली में बैठे लोग खुद को मालिक समझ बैठे हैं। जनता उनको सबक सिखाना जानती है।
पूर्व मुख्यमंत्री जी ने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार ने इसके पूर्व जंतर-मंतर पर नौजवान साइकिल यात्रियों को भी दिल्ली की सीमा में प्रवेश नहीं करने दिया था। भाजपा सरकार का यही छात्र-नौजवान, किसान विरोधी चरित्र है। अन्नदाता के साथ बर्बरता दिखाना अमानवीय और शर्मनाक है। लोकतंत्र में तानाशाही और निर्ममता का जवाब जनता जरूर देती है। अन्नदाता एक-एक लाठी का बदला चुनाव में लेगा।
अपने शब्दो के तीखे वारों के लिए जाने जानेवाले आज़म खान ने आज गांधी जयंती पर गांधीगिरी अपनाते हुए शांतिपूर्ण ढंग से रामपुर की गांधी समाधि पर लखनऊ में विवेक तिवारी हत्याकांड पर आरोपी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की। आजम खान शांतिपूर्ण ढंग से हत्याकांड पर विरोध जाहिर करते हुए योगी  से  विवेक तिवारी के हत्यारे को फांसी तक पहुंचाने  की मांग का बैनर  हाथ में  पकड़ कर हत्या कांड का विरोध किया।

बोले अगर देश वासियों ने देश चलाने वालों से हिसाब नहीं माँगा तो  देश में लोकतंत्र क़ानूनतंत्र और प्रजातंत्र को बचाना असंभव होगा।

आज़म खान ने लखनऊ में विवेक तिवारी की हत्या पर दोषी को मुख्यमंत्री योगी से फांसी तक पहुंचने की मांग की है ।उन्होंने गांधी समाधि पहुंच कर चटख धूप में लगभग 1  घंटा खड़े रहकर हत्या कांड पर विरोध ज़ाहिर किया । वहीं इस मौके पर अन्य सपा विधायक व कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।  वहीँ आज़म खान ने गाँधी समाधी पर पुष्प अर्पित करके मौन धारण किया। और देश वासियों से सरकार से कानून व्यवस्था पर हिसाब मांगने की बात की।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.