प्रियंका ने कहा- PM चीन-पाकिस्तान जा सकते हैं, लेकिन कुछ दूरी पर बैठे किसानों से मिलने नहीं

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज बिजनौर पहुंचीं। उन्होंने यहां चांदपुर की रामलीला ग्राउंड में आयोजित महापंचायत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। प्रियंका ने कहा, ‘PM मोदी ने ऐसा कोई देश नहीं छोड़ा, जहां वे नहीं गए। मोदी चीन और पाकिस्तान जा सकते हैं, लेकिन घर से कुछ किलोमीटर दूर दिल्ली बॉर्डर पर बैठे किसानों से मिलने नहीं। प्रियंका ने आगे कहा, ‘ मोदी ने किसानों को नया नाम दिया है ‘आंदोलनजीवी’। 200 से ज्यादा किसानों ने जान दी है। लेकिन, PM मोदी देश भक्त और देशद्रोही को पहचान नहीं पाए।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा, ‘मैं शहीद के परिवार की बेटी हूं। मोदीजी किसान आपके दरवाजे पर खड़ा है। उसका बेटा देश की सीमा पर खड़ा है। आपको अपमान करने का कोई हक नहीं है।’ छह दिन में प्रियंका गांधी का यह पश्चिमी UP का दूसरा दौरा था।

प्रियंका गांधी के भाषण की 5 बड़ी बातें

  • ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आपने यही सोचकर दो-दो बार जिताया था कि वह कुछ काम करेंगे। उन्होंने चुनाव किसानों और छोटे व्यापारियों को बढ़ाने की बड़ी-बड़ी बातें की थी। बेरोजगारी की बात की थी। लेकिन क्या हुआ? असलियत तो यह है कि उनके राज में ऐसा कुछ नहीं हुआ। आप बताइए, क्या आपकी कमाई दोगनी हुई है? क्या गन्ने का दाम 2017 से बढ़ाए गए?’
  • ‘आप सब गन्ना किसान हैं। पूरे देश के गन्ना किसानों का 15,000 करोड़ बकाया है। ये ऐसे प्रधानमंत्री हैं कि आज तक आपका बकाया पूरा नहीं किया। इन्होंने (PM मोदी) ने दुनिया में घूमने के लिए 2 हवाई जहाज खरीदे हैं। इनकी कीमत 16 हजार करोड़ रुपए है। दिल्ली में संसद के नए भवन बनाने की योजना बनाई है। लेकिन, सरकार के पास किसान के बकाए रुपए देने के लिए पैसा नहीं है।’
  • ‘1955 में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने जमा खोरी पर कानून बनाया था। इस सरकार ने जमाखोरों को छूट दे दी है। कोई रोक नहीं, कोई पाबंदी नहीं है। इस कानून से बड़े-बड़े पूंजीपतियों की मनमर्जी चलेगी।’
  • ‘जिसको प्राइवेट मंडी खोलनी है वो खोल सकता है। इसमें बड़े-बड़े लोगों की मंडी खुलेगी। सरकारी मंडी में टैक्स लगेगा। प्राइवेट मंडी में टैक्स नहीं लागेगा। लेकिन सरकारी मंडी में आपको समर्थन मूल्य मिलता था, जो प्राइवेट में नहीं मिलेगा। यह कानून किसानों के लिए नहीं, खरबपतियों के लिए है। इन्ही के पूंजी पति मित्र सारी मीडिया चलाते हैं। अगर आपको इनसे कोई उम्मीद है तो गहराई से सोचिए।’
  • ‘यह अहंकारी सरकार अपनी माया से निकले। मुझे देश की जनता पर भरोसा है। इस लड़ाई में हम आपके साथ हैं। मेरे भाई राहुल भी आपके साथ हैं। आखिर में प्रियंका गांधी ने किसानों की मौत पर दो मिनट का मौन रखा।’

27 जिलों में महापंचायत अभियान का हिस्सा
यह महापंचायत ‘जय जवान-जय किसान’ अभियान के तहत हो रही है। कांग्रेस ने प्रदेश के 27 जिलों में कृषि कानूनों के विरोध में अभियान के तहत महापंचायत करने का निर्णय लिया है। इसकी शुरुआत सहारनपुर से हुई थी। दरअसल, यह पूरी कोशिश उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधान सभा चुनाव से पहले अपने खोये जनाधार को बढ़ाने के लिए की जा रही है। प्रियंका गांधी ने पहले सहारनपुर में पूजा पाठ और इबादत, फिर प्रयागराज में संगम स्नान कर सॉफ्ट हिंदुत्व को टारगेट करने का प्रयास किया था।

मौनी आमावस्या के दिन संगम में लगाई डुबकी
इससे पहले 11 फरवरी को प्रियंका बेटी मिराया के साथ प्रयागराज पहुंची थीं। उन्होंने संगम पर डुबकी लगाई थी। प्रियंका गंगा में नाव चलाते हुए भी नजर आईं थीं। इस दौरान उन्होंने शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद से भी मुलाकात की थी। 9 फरवरी को प्रियंका सहारनपुर गई थीं। इस दौरान उन्होंने काला कुर्ता, भगवा गमछा और माथे पर तिलक के साथ पंचायत को संबोधित किया था। सहारनपुर में प्रियंका ने शाकंभरी देवी मंदिर में पूजा की, फिर एक दरगाह पर गईं थी।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *