चीन ने तैनात किए 50 हजार सैनिक, इंडियन आर्मी को मिली खुली छूट -एलएसी पर हालात बेहद तनावपूर्ण


लद्दाख,10 सितंबर (आरएनएस)। भारत और चीन से बीच तनाव अपने चरम पर पहुंच चुका है। वास्तविक नियंत्रण रेखा (रु्रष्ट) पर दोनों ही देशों की सेना आमने-सामने खड़ी हैं।

चीन ने एलएसी पर सैनिकों की संख्या में भारी बढ़ोतरी की है। चीन लगातार भारत के खिलाफ उकसाने की तैयारी कर रहा है। उधर मॉस्को में आज भारत और चीन के विदेश मंत्रियों के बीच बैठक होनी है। इस पर सभी की नजरें लगी हुई हैं।
चीन ने एलएसी पर हाल ही में करीब 50 हजार सैनिकों की तैनाती की है। वह लगातार युद्धाभ्यास भी कर रहा है। वहीं भारतीय सुरक्षाबलों के अनुसार भले ही चीन ने एलएसी सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी हो लेकिन उसकी स्थिति अभी युद्ध के लिए तैयार जैसी नहीं दिख रही है। भारतीय सेना के एक अधिकारी के मुताबिक अगर चीन ने युद्ध की कोशिश भी की तो उसे भारी खामियाजा भुगतना होगा।
चीन लगातार भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश कर रहा है। हाल ही में 29-30 अगस्त को चीन ने एक बार फिर भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की। चीन कुछ ऊंचे इलाकों की चोटी पर कब्जा करना चाहता है। वहीं लोकल लेवल पर भारतीय कमांडरों को अपने स्तर पर कार्रवाई करने की पूरी छूट है। ऊंचाई पर तैनात भारतीय सैनिक बेहतरीन हथियारों से लैस हैं और पूरी तरह तैयार हैं। भारत की ओर से रेचिन ला इलाके के पास टैंकों की तैनाती भी कर दी है।
हाल ही में भारत ने एंटी शिप हाइपरसोनिक मिसाइलों का सफल परीक्षण किया है। इसने चीन की परेशानी और बढ़ा दी है। चीन लगातार अपनी नौसेना की ताकत में इजाफा कर रहा है। चीन के पास जल्द ही तीन एयरक्राफ्ट कैरियर हो जाएंगे। इसके अलावा चीन के पास बड़े पैमाने पर डेस्ट्रायर, फ्रीगेट्स और अत्याधुनिक सबमरीन का बेड़ा है। यही नहीं चीन पाकिस्तान के ग्वादर में विशाल नेवल बेस बना रहा है।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *