मलिहाबाद मेें हुयी घटना पर मुख्यमत्री सख्त

इन्सपेक्टर मलिहाबाद निलंबित हटाये गये एसपी ग्रामीण

लखनऊ।(आरएनएस ) राजधानी के ग्रामीण क्षेत्र मलिहाबाद में हुयी युवक की हत्या के बाद  हुये बवाल के बाद इस पूरी घटना को प्रदेष के मुख्यमंत्री योगीआदित्यनाथ ने बहुत ही गम्भीरता से लेते हुये अधिकारियों को आदेष जारी किये है कि पूरे मामले पर दोषियों पर सख्त से कार्यवाही की जाये। मुख्यमंत्री के कड़क रूख रूख अख्तियार के बाद लखनऊ रेंज की आई जी ने वहां पर तैनात रहे इन्सपैैक्टर को निलंबित करते हुये पूरे मामले के जांच के आदेष दिये है तो वहीं जिलाधिकारी भी गांव पहुंचे और उन्होने मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता देने के साथ आरोपियों पर रासुका के तहत कार्यवाही करने की बात की है।

उल्लेखनीय है कि मलिहाबाद के दिलावर नगर का रहने वाला रामविलास गुरूवार की रात में कहला मार्ग पर नहर के किनारे टयूबबैल से पानी लगा रहा था। बताया जा रहा है कि उसी समय वहां से दो मोटरसाइकिलों पर सवार होकर गुजरे लोगों से उसकी कहासुनी हो गयी । आरोप है कि मोटरसाइकिलों सवार दबंगों ने रामविलास को वहीं बुरी तरह से पीटना ष्षुरू कर दिया उसकी चीख पुकार सुनकर जब तक वहां ग्रामीण पहुंचते तब तब तक दबंग वहां से भागने में कामयाब हो गये। आरोप है कि दबंगों की पिटाई से लहूलुहान हुये रामविलास ने दम तोड़ दिया था। ऐसी घटना हो जाने के बाद ग्रामीणों ने मृतक रामविलास भाई के साथ थाने जाकर गांव के ही मुकीद ष्षानू गुडडू मुस्तकीम गुलाम अली आदि लोगों पर मामला दर्ज कराया था। ष्षुक्रवार को ग्रामीणों को पता चला कि स्थानीय पुलिस ने इस पूरे मामले को हल्की धाराओं में दर्ज किया इस पर ग्रामीण आग बबूला हो गये और उन्होने पुलिस के खिलाफ जमकर प्रदर्षन किया । ग्रामीणों द्वारा रोड जाम कर किये जा रहे प्रदर्षन की सूचना पाकर मौके पर आई जी रेंज लक्ष्मी सिंह भी मौके पर पहुंची और उन्होने भी उत्तेजित ग्रामीणों को समझााने का प्रयास किया मगर ग्रामीण इन्सपेैक्टर को हटाने की मांग को लेकर अपनी जिद पर अड़े रहे। लगभग चार घण्टे तक चले इस प्रदर्षन के बाद बताया जा रहा है कि पुलिस को यह प्रदर्षन समाप्त कराने के लिये गोली भी चलानी भी चलानी पड़ी । प्रदर्षन के बाद पुलिस ने इस घटना में नामजद तीन आरोपियों गुलाम अली मुस्तकीम और मुकीद को गिरफ्तार कर अन्य आरोपियों की तलाष ष्षुरू कर दी है।

आईजी रेंज ने सम्भाला मोर्चा

मलिहाबाद के दिलावर नगर में हुयी घटना को सुलझााने के लिये लखनऊ रंेंज की आईजी लक्ष्मी रंेज ने स्वयं मोर्चा सम्भाला उन्होने उग्र प्रदर्षन कर रहे ग्रामीणों को समझाने का हर स्तर पर प्रयास किया और जब इसके बाद भी जब ग्रामीण अपनी इन्सपेैक्टर मलिहाबाद सियाराम को निलंबित करने की मांग पर अड़े रहे तो उन्होने मौेके की नजाकत को समझते हुये न केवल इन्सपेैक्टर को निलंबित किया बल्कि उनके खिलाफ जांच के आदेष भी आदेष भी दिये।

हटाये गये एसपी ग्रामीण

मलिहाबाद में हुये बबाल की घटना को प्रदेष के मुख्यमंत्री श्री योगी ने काफी गम्भीरता से लिया और और उन्होने इस पूरे मामले की न केवल जांच के आदेष दिये बल्कि दोषियों पर सख्त से कार्यवाही करने के आदेष भी आदेष जारी किये है इसी कड़ी में आज अभी तक एसपी ग्रामीण के पद पर रहे आदित्य लाग्हें को इस पद से हटाकर उनके स्थान पर सीबीसीआईडी में तैनात रहे ह्रदेष कुमार को अब एसपी ग्रामीण लखनऊ बनाया गया है।

डीएम ने मृतक के परिजनोें को आर्थिक सहायता का चेक

मलिहाबाद में हुयी घटना के बाद आज जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाष ने मृतक के गांव जाकर उनके परिजनों को आर्थिक सहायता के रूप में पांच लाख का चैक सौंपा और उनके बच्चों को पढाने के साथ साथ आवष्यकता पड़ने पर हर सम्भव मदद करने का आष्वासन दिया। बताया जाता है कि डीएम लखनऊ अभिषेक प्रकाष ने आरोपियों पर एनएसए के तहत कार्यवाही करने और उनके ष्षस्त्र लाइसेंस को निरस्त करने की भी बात की गयी।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *