सीधी हादसे के 5वें दिन 54वां शव मिला; 22 साल के युवक की इसी साल शादी होनी थी

सीधी बस हादसे में नहर में बहे कुकरीझर के अरविंद विश्वकर्मा (22) का शव पांचवें दिन मिला। शनिवार दोपहर करीब 1 बजे गोविंदगढ़ थाने के अमिलकी गांव के पास नहर में अरविंद का शव मिला। आखिरी शव मिलने के बाद अब सर्च ऑपरेशन बंद कर दिया गया है। हादसे में मरने वालों की संख्या अब 54 हो गई है। जबलपुर NDRF और SDRF की टीमें शनिवार सुबह से ही सुरंग में सर्चिंग में जुटी थीं।

शनिवार को सुरंग में 2 बार तलाश करने के बाद अरविंद का शव नहीं मिल पाया। रेस्क्यू टीम ने कांटा भी डाला, लेकिन सफलता नहीं मिली। फिर तीसरी कोशिश में शव मिल गया।

इसी साल अरविंद की शादी होनी थी
हादसे वाले दिन अरविंद अपनी बुआ की बेटी यशोदा को ANM की परीक्षा दिलाने ले जा रहे थे, लेकिन बस के नहर में गिरने से दोनों की मौत हो गई। यशोदा का शव 16 फरवरी को ही मिल गया था। अरविंद चार भाई-बहनों में सबसे बड़े थे और इसी साल उनकी शादी होनी थी।

ड्राइवर की लापरवाही से हुआ था हादसा
16 फरवरी को सीधी से जबलनाथ परिहार की 32 सीटर बस MP19P1882 सुबह पांच बजे के करीब सतना के लिए रवाना हुई थी। बस में सीधी, सिंगरौली जिले के कुल 63 यात्री सवार थे। इनमें से 3 यात्री बीच में ही उतर गए थे। बस में सवाल ज्यादातर युवतियां ANM की परीक्षा देने सतना जा रही थीं। रास्ते में छुहिया घाटी में लगे जाम से बचने के लिए ड्राइवर ने बस को जिगिना नहर रोड पर डायवर्ट कर दिया था। बस ओवरलोड थी और स्पीड भी तेज थी, इसलिए ड्राइवर कंट्रोल नहीं कर पाया और बस नहर में गिर गई।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *