रहाणे बोले- बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक लगाना स्पेशल, सीरीज में वापसी के लिए बड़ी पारी जरूरी थी

Melbourne Test: I may score a 100 or even 200 in third Test, says Ajinkya  Rahane- The New Indian Express

ऑस्ट्रेलिया में आखिरी 3 टेस्ट में भारतीय टीम की कप्तानी करने वाले अजिंक्य रहाणे ने मेलबर्न मैच में लगाए शतक (112 रन) को बेस्ट बताया है। रहाणे ने कहा कि वे जिस मैच में रन बनाते हैं और उसमें टीम को जीत मिलती है, तो वह स्पेशल ही होता है। उन्होंने कहा कि मेलबर्न में खेली गई पारी सीरीज जीतने के लिए अहम थी। इससे पहले रहाणे ने 2014 में लॉर्ड्स में खेली गई 103 रन की पारी को बेस्ट बताया था।

मेलबर्न में लगाई सेंचुरी स्पेशल
रहाणे ने स्पोर्ट्स टुडे से कहा, ‘‘टेस्ट और सीरीज जीतना मेरे पर्सनल अचीवमेंट से बढ़कर है। मेलबर्न में लगाई गई सेंचुरी स्पेशल है। मैंने बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक लगाने के बाद कहा था कि लॉर्ड्स में लगाई गई सेंचुरी बेस्ट थी। पर कई लोगों ने मुझसे कहा कि मेलबर्न में खेली गई पारी अब तक की सबसे अच्छी पारी है।’’

एडिलेड में हार के बाद मेलबर्न टेस्ट जीतना जरूरी था
उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता इस पर क्या रिएक्ट करना चाहिए। अब मुझे लगता है कि एडिलेड टेस्ट में बुरी तरह से हार मिलने के बाद टीम में जिस तरह का माहौल था, उस परिस्थिति में शतक लगाना बेहद जरूरी था। मेलबर्न टेस्ट जीतना जरूरी था। मैं वह शतक लगाकर खुश हूं।’’

टीम इंडिया ने मेलबर्न टेस्ट 8 विकेट से जीता
ऑस्ट्रेलिया ने एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट जीतकर सीरीज में 1-0 की बढ़त ली थी। इस मैच की दूसरी पारी में भारतीय टीम 36 रन पर ऑलआउट हो गई थी। यह टेस्ट इतिहास में भारत का एक पारी में सबसे छोटा स्कोर था। इसके बाद मेलबर्न बॉक्सिंग डे टेस्ट में टीम इंडिया ने वापसी करते हुए 8 विकेट से जीत हासिल की। इस टेस्ट की पहली पारी में रहाणे ने 112 रन बनाए थे।

MCG में बॉक्सिंग डे टेस्ट में 2 शतक लगाने वाले पहले भारतीय
रहाणे ने अब तक बॉक्सिंग डे टेस्ट में 2 शतक लगाए हैं। ऐसा करने वाले वह पहले भारतीय बने। रहाणे ने इससे पहले 2014 में भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में खेले गए बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक जड़ा था। उन्होंने इस मैच में 147 रन की पारी खेली थी। वहीं, 2003 में वीरेंद्र सहवाग और 2014 में विराट कोहली ने भी बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक जड़ा था। 2018 में चेतेश्वर पुजारा ने MCG में सेंचुरी लगाई थी।

रहाणे ने सचिन के रिकॉर्ड की भी बराबरी की
रहाणे ने बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक लगाकर सचिन तेंदुलकर के 21 साल पहले बनाए गए रिकॉर्ड की भी बराबरी की। वे टेस्ट क्रिकेट में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (MCG) पर बतौर भारतीय कप्तान शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बने। सचिन तेंदुलकर ने 1999 में बतौर कप्तान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में शतक लगाया था। इस मैच में सचिन ने 116 रन की पारी खेली थी। 1999 में खेले गए इस मैच को ऑस्ट्रेलिया ने 285 रन से जीता था।

पंंत, विहारी और अश्विन ने सिडनी टेस्ट बचाया
टीम इंडिया ने दूसरा टेस्ट जीतने के बाद सिडनी टेस्ट को ड्रॉ कराया। इस टेस्ट में ऋषभ पंत ने शानदार पारी खेली थी। ऑस्ट्रेलिया ने इस टेस्ट में 407 रन का टारगेट दिया था। इसके जवाब में टीम इंडिया ने चौथी पारी में 5 विकेट खोकर 334 रन बनाए। हनुमा विहारी और रविचंद्रन अश्विन ने साढ़े 3 घंटे बल्लेबाजी की। दोनों ने 5वें दिन 97 में से 27 ओवर तक मैदान पर गेंदबाजों का सामना किया।

गाबा में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 32 साल बाद हराया
इसके बाद ब्रिस्बेन में खेले गए आखिरी टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराया। गाबा में 32 साल बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम को हार मिली। इससे पहले 1988 में वेस्टइंडीज ने गाबा में ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया था। ऑस्ट्रेलिया ने 328 रन का टारगेट दिया। जवाब में भारतीय टीम ने 7 विकेट पर 329 रन बनाए। पंत ने नाबाज 89 रन की पारी खेली। साथ ही टीम इंडिया ने 2-1 से सीरीज भी जीत ली।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *