बढ़ते कोरोना के बीच अफसरों की लापरवाही पड़ेगी भारी, इटावा में कोरोना वेस्ट को सार्वजनिक स्थल पर जलाया जा रहा

उत्तर प्रदेश में जहां एक ओर कोरोना का खतरा मंडराता दिख रहा है और सरकार ने कई गाइडलाइंस जारी कर दी हैं। वहीं, इटावा रेलवे स्टेशन परिसर में कोरोना किट से जांच कर रहे स्वास्थ्यकर्मी की बड़ी लापरवाही देखने को मिली है। स्टेशन पर यात्रियों की कोविड जांच के बाद एंटीजन किट कचरा सार्वजनिक स्थल पर जलाया जा रहा है। जब स्वास्थ्यकर्मी से पूछा गया कि यह क्या जला रहे हो तो उसने बताया कोविड के एंटीजन कार्ड जला रहे हैं।

वहीं, स्टेशन परिसर में दूसरे स्वास्थ्यकर्मी से इस मामले पर बात की गई तो उन्होंने इस कचरे को जलाने की बात कही और कहा कि हम क्या इसको साथ ले जाएंगे। इस कचरे को जलाने से कोई खतरा नहीं है, यह सिर्फ किट के रैपर थे। अब सवाल यह उठता है कि कोरोना महामारी के दूसरी लहर को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग इस लापरवाही के साथ कैसे लड़ पाएगा।

जांच के बाद दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई
इटावा सीएमओ एन एस तोमर ने मामले में लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई की बात कही। सीएमओ ने कहा कि बायोकेमिकल वेस्ट के लिए एक कम्पनी से अनुबंध किया गया है। उसी कम्पनी के द्वारा सारा बायोकेमिकल वेस्ट को एकत्र करके और उसको नष्ट किए जाने का प्रावधान है। इस मामले पर जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *