अबॉर्शन पर प्रतिबंध हटाने की मांग लेकर सड़कों पर उतरीं महिलाएं, बोलीं- गर्भ हमारा, उस पर कोर्ट फैसला देने वाला कौन?

गर्भपात कानून के खिलाफ प्रदर्शन करती महिलाएं। - Dainik Bhaskar

यूरोपीय देश पोलैंड में पहले से ही सख्त गर्भपात कानून को कोर्ट द्वारा और सख्त करने पर 30 हजार से ज्यादा महिलाएं सड़कों पर उतर आईं। उन्होंने गुरुवार को कोर्ट के बाहर और सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं के घर के बाहर प्रदर्शन किया। महिलाओं ने गर्भपात को संवैधानिक करने की मांग की।

महिलाओं का कहना था- ‘गर्भ हमारा, उस पर अधिकार भी हमारा होना चाहिए। इस पर कोर्ट या राजनीतिक फैसलों का दबाव क्यों? हमें इस कानून से आजादी दी जाए।’ दरअसल, पोलैंड का गर्भपात कानून 1993 में पारित हुआ था।

गर्भपात कराने पर डॉक्टर को हो सकती है 8 साल की जेल

इसके अनुसार गर्भपात उसी हालत में मुमकिन है, जब मां की जान को खतरा हो। इसमें भी ऐसा सिर्फ 12वें हफ्ते तक ही किया जा सकता है। यदि कोई डॉक्टर गर्भपात कराता भी है तो उसे 8 साल तक जेल हो सकती है।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *